Advertisement

Behind Bars: जेल में 196 बच्चों ने लिया जन्म, गर्भवती हो रही महिलाएं, कार्रवाई को ले Calcutta High Court में याचिका

अमिकस क्यूरी ने कलकत्ता हाईकोर्ट से बंगाल जेल में बंद महिलाओं के प्रेग्नेंट होने के गंभीर मामले में कार्रवाई की मांग की है.

Written by My Lord Team |Published : February 8, 2024 7:57 PM IST

कलकत्ता उच्च न्यायालय (Calcutta High Court) ने बंगाल की जेलों में बंद महिलाओं की स्थिति पर चिंता जाहिर की. एक अमिकस क्यूरि (Amicus Curie) ने कोर्ट को बताया कि जेल में बंद महिला कैदी (Women Prisoner) लगातार प्रेग्नेंट (Pregnant) हो रही है. और राज्य के विभिन्न जेलों में अब तक 196 बच्चे पल रहे है. इन बच्चों को जेल (सुधार गृह) में बंद महिलाओं ने जेल में रहने के दौरान जन्म दिया है. इस विषय को उजागर करने साथ ही एमिकस क्यूरि ने महिला वार्डो में पुरूषों के प्रवेश पर रोक लगाने की मांग की है. इस चिंताजनक स्थिति के उजागर होने से जेल नियमों (Jail Law) में सुधार की चर्चा तेज हैं.

अपराधिक बेंच करेगी सुनवाई

जस्टिस टीएस शिवगनामन और जस्टिस सुप्रीतम भट्टाचार्य की बेंच ने इस जानकारी को संज्ञान में लिया. कोर्ट ने कहा. मामला बहुत गंभीर है. हम इसे अपराधिक मामलों की सुनवाई करने वाली बेंच के पास भेज रहे हैं.

Amicus Curie ने दिया ये सुझाव

अमीकस क्यूरी ने कोर्ट को सुझाव दिया. सभी जिला कोर्ट के जज अपने क्षेत्र के जेलों का दौरा करें, जिससे जेल में रहने के दौरान कितनी महिला कैदी गर्भवती है या हुई, का पता चल सकें. साथ ही महिला कैदियों को जेल में भेजने से पहले प्रेग्नेंसी टेस्ट कराने सुझाव दिया. और इसके लिए माननीय न्यायालय निर्देश जारी कर सकते हैं. अपनी बातों की पुष्टि के लिए अमिकस क्यूरी ने आंखो देखी असल हालात का वर्णन किया. राज्य के एक जेल में अभी एक महिला गर्भवती है. और जेल में पल रहे 15 बच्चों के बारे में बताया. ये विषय गंभीर है. इसमें अदालत को त्वरित कार्रवाई करने की जरूरत है.

Also Read

More News

क्या है Amicus Curie?

Amicus Curie को अदालत का मित्र कहते हैं. एक व्यक्ति या संगठन है. जो किसी विषय, मुद्दे पर अपनी राय देकर अदालत की सहायता करते हैं.

Comments