Advertisement

केजरीवाल की अंतरिम जमानत पर अमित शाह ने दी प्रतिक्रिया, कहा- बहुतों को लगता है कि स्पेशल ट्रीटमेंट मिला है

केजरीवाल की अंतरिम जमानत पर केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने दी प्रतिक्रिया (चित्र: X से)

न्यूज एजेंसी ANI को दिए हालिया इंटरव्यू में केजरीवाल से जुड़ी सवाल पूछे जाने पर केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कहा, यह कोई रूटीन फैसला नहीं है, देश के बहुत सारे लोग मानते हैं कि स्पेशल ट्रीटमेंट मिला है.

Written by Satyam Kumar |Published : May 16, 2024 10:57 AM IST

Amit Shah On Kejriwal Interim Plea: केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने अरविंद केजरीवाल को मिली अंतरिम जमानत पर बड़ा बयान दिया है. न्यूज एजेंसी ANI को दिए हालिया इंटरव्यू में केजरीवाल से जुड़े सवाल पूछे जाने पर अमित शाह ने प्रतिक्रिया दी. केन्द्रीय गृहमंत्री ने कहा, यह कोई रूटीन फैसला नहीं है, देश के बहुत सारे लोग मानते हैं कि स्पेशल ट्रीटमेंट मिला है.

सुप्रीम कोर्ट से केजरीवाल को मिली है राहत

सुप्रीम कोर्ट ने अरविंद केजरीवाल को 2 जून तक की अंतरिम जमानत दी है. सुप्रीम कोर्ट का ये फैसला अरविंद केजरीवाल की ईडी की रिमांड और गिरफ्तारी को चुनौती देने वाली याचिका पर आया है.

केजरीवाल की याचिका पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि वे परिस्थिति को देखते हुए वादी को चुनाव प्रचार करने के लिए राहत देने की सोच सकते हैं. हालांकि ईडी ने गिरफ्तारी का विरोध किया लेकिन अदालत ने केजरीवाल को दो जून तक सशर्त अंतरिम जमानत दी है. अंतरिम जमानत पर बाहर आने के बाद अरविंद केजरीवाल केवल चुनाव प्रचार संबंधित कार्य ही कर सकेंगे. इस दौरान वे केस के गवाह और साक्ष्यों से किसी प्रकार का छेड़छाड़ नही करेंगे.

Also Read

More News

 स्पेशल ट्रीटमेंट मिली है: अमित शाह

जेल से बाहर निकलने के बाद अरविंद केजरीवाल ने एक रैली में कहा कि अगर लोकसभा चुनाव में INDIA ब्लॉक को बहुमत मिलता है तो अरविंद केजरीवाल बाहर आ जाएंगे. अमित ने इस बयान पर तल्खी दिखाया कहा कि ये 'अदालत की अवमानना'है.

अमित शाह ने कहा,

“मेरा मानना है कि यह स्पष्ट रूप से सुप्रीम कोर्ट की अवमानना है. वह (अरविंद केजरीवाल) यह कहना चाह रहे हैं कि अगर कोई जीत कर आता है तो सुप्रीम कोर्ट उसे जेल नहीं भेजता, भले ही वह दोषी हो. जिन जजों ने दिल्ली के सीएम को जमानत दी, उन्हें सोचना होगा कि उनके फैसले का उपयोग या दुरुपयोग कैसे किया जा रहा है.”

केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने जजों की ओर इशारा करते हुए कि जजों को यह ध्यान में रखने की जरूरत है कि उनके फैसले को किस तरह से देखा जा सकता है.

Comments